चिकित्सा प्रवेश परीक्षा में  चेकिंग – सुरक्षा या प्रताड़ना

1
328
सुरक्षा या प्रताड़ना

सीबीएसइ की और से रविवार को NEET UG 2017 सम्पन हुई l जिसमे नक़ल की रोकथाम के लिए परीक्षा केन्द्रो पर व्यापक एवं कड़े इंतजाम किये गए सुरक्षा या प्रताड़ना परन्तु सभी जगह अलग अलग तरीके इस्तमाल किये गए नक़ल की रोकथाम के लिए जो समझ से परे है समाचार पत्रों से जानकारी मिली की इंदौर में टोर्च जलाकर कर्ण की जाँच की गई | ब्लू ट्रूथ यन्त्र तो नहीं लगा l

एक अन्य राज्य के एक परीक्षा में एक लड़की ने आरोप लगाया की परीक्षा में बैठने के पहले .उसके अंत वस्त्र उतरवाए गये l हाला की ये कदम नक़ल रोकने की दृष्टि से उठाया गया परतीत होता हैं. सूरत में एक परीक्षा केंद्र पर किसी लड़की की टी शर्ट की लम्बी बांह को कैंची से काट दिया गया l उसे स्लीवलेस परीक्षा देना पड़ी l

नथनी एअरिंग माला और साइड के बटन तक निकलवाए गये उज्जैन में जींस की बटन तथा ज़िप तोड़ी गई lइस प्रकार की सुरक्षा समझ से परे है मजेदार बात यह है की इसके बाद भी नीट का पेपर लिक करने की झूठी साजिश की गई l इन सब बातो को हमें तुलनात्मक रूप में देखना होगा l वैसे ये नक़ल को रोकने की डृष्टि से सही है हलाकि क्या ये छात्राओं के लिए परीक्षा पूर्व प्रताड़ना नहीं हे ? हमें परीक्षा में हो रही नक़ल को तो रोकना है लकिन सुरक्षा के नाम पर प्रताड़ना नहीं होना चाहिए l

1 COMMENT

  1. Excellence show in india thanks for the coming in india conceive other website owners should take this site as an model, very clean and good user genial layout.

Comments are closed.