छात्रों में तनाव का मुख्य कारण : पढाई एवं करियर

4
107
छात्रों में तनाव

करियर के शुरुआती दौर में आपको कई तरह की समस्याओं का सामना करना पढ़ सकता है जैसे इंटरव्यू में सिलेक्ट न हो पाना, प्रोजेक्ट का सफल न होना, साथी कर्मचारियों से प्रतिस्पर्धा और नौकरी में अनिश्चितता कई बार तनाव का कारण बन जाती है | कठिनाइयों और समस्याओं से डरने पर आप इन्हे कभी ठीक तरह हैंडल करना नहीं सीख पाएंगे | यदि आप ऐसा करना नहीं सीख पाते तो आपके सफल होने की सम्भावना में लगातार कमी आने लगती है | एक सर्वे के अनुसार हाल ही के कुछ वर्षो में कॉलेजों में पढ़ने वाले ७0 % छात्रों में तनाव का स्तर तेज़ी से बढ़ा है |

तनाव से बचने के कुछ उपाय

हर ऑफ़िस या कार्य क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा होती है | कभी कभी आपके मुक़ाबले आपके किसी अन्य सहकर्मी को ज्यादा महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां दे दी जाती है, जिससे आपको उनके साथ सामंजस्य बैठाने में दिक्कत का सामना करना पढ़ रहा हो | इसका आसान सा समाधान यह है कि आप इन बातो को नकारात्मक न ले एवं अपने सहकर्मी से इस बारे में पूरी तरह खुल कर बात करे| इसका कतई यह मतलब नहीं है कि आप अपने सहकर्मी को बहुत अच्छा दोस्त बनाये वरन उनके साथ अच्छी तरह से पेश आये | इसके साथ साथ अपने काम के बारे में अपने सीनियर से सलाह लेते रहे | अगर आप ऐसे व्यक्ति बनते है जो किसी भी प्रकार के लोगो के साथ काम कर सकने में सक्षम है तो आप बहुत हद तक तनाव को अपने ऊपर हावी होने से रोक सकते है|

कई बार ऐसा भी होता है की जूनियर लेवल का एम्प्लोयी होने के कारण आपको ज्यादा काम न मिल पाए, ऐसे हालातों में नकारात्मकता हावी होने लगती है| इससे बचने के लिए अपने मैनेजर से बात करे या अपनी टीम के किसी अन्य साथी के काम में मदद करने की पहल करे | इससे आपके ऊपर तनाव हावी नहीं होगा एवं आपके सह-कर्मियों पर आपका अच्छा प्रभाव पड़ेगा |

इसके अलावा कई बार ऐसा भी होता है कि आपकी योजना सफल नहीं हो पाती है ऐसे हालत में सकारात्मकता बेहद जरुरी है | जो हो चूका है उसके बारे में विचार करने से अच्छा है कि आप नई सम्भावना के बारे में सोचे | असफलता से आपको बहुत ही महत्वपूर्ण अनुभव प्राप्त होता है जिससे की आपके सफल होने का तरीका भले ही ना मिले पर आपको असफल होने के कारण जरूर समझ आ जायेंगे | जिससे आपको क्या करने से बचना है इसका भलीभांति ज्ञान हो जायेगा एवं यह आपकी सफलता के लिए वरदान की तरह साबित होगा |

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य:
• 70 % छात्रों में पढाई एवं करियर संबंधित कारणों से तनाव बढ़ा है|
• 62% छात्र हर महीने में एक दिन एकेडमिक परफॉरमेंस की वजह से तनाव में रहते है |
• 40% छात्रों को मेन्टल हेल्थ चेकअप की जरुरत हुई |

Submit your review
1
2
3
4
5
Submit
     
Cancel

Create your own review

Average rating:  
 2 reviews
by Aniket on Blank Business Name

Nice Blog.

This is a valuable educational blog list through which people can gain more knowledge and learning skills in a better way.Thanks for sharing this article.

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here